Top

मुस्लिम क्षेत्र के सम्मानित सरदार साहेबान और समाजसेवी लोगों ने मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर पतंग उड़ा कर नगर वासियों को प्यार मोहब्बत का संदेश दिया

मुस्लिम क्षेत्र के सम्मानित सरदार साहेबान और समाजसेवी लोगों ने मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर पतंग उड़ा कर नगर वासियों को प्यार मोहब्बत का संदेश दिया

वाराणसी

मकरसंक्रांति के पावन पर्व पर मुस्लिम क्षेत्र के सम्मानित सरदार साहेबान और समाजसेवी लोगों ने पीली कोठी से मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर पतंग उड़ा कर नगर वासियों को प्यार मोहब्बत का संदेश दिया और क्षेत्र के सम्मानित लोगों ने संदेश देते हुए आपसी भाईचारा बनाए रखने अपील की क्षेत्र के सरदार साहिबान ने कहा कि काशी सदियों से गंगा जमुना तहजीब का कल्चर रहा है आज पतंग उड़ाते समय बचपन की याद ताजा हो गई पतंग के माध्यम से नगर वासियों को यह भी संदेश देने की कोशिश की जा रही है कि हर त्योहार को मिलझुलकर मनाना चाहिए त्योहार एक संस्कृति और प्यार का संदेश है बाबा विश्वनाथ की नगरी कबीर और नजीर की नगरी पंडित मदन मोहन मालवीय के शहर से गंगा जमुनी तहजीब का जो वातावरण है पूरे विश्व में फैलता रहता है आज देश को आपसी भाईचारा और प्यार मोहब्बत बनाए रखने के लिए बेहद जरूरत है तभी सच्चे मन से मकर संक्रांति का आनंद मिल सकता है इस अवसर पर सरकार मकबूल हसन अंसारी सरदार गुलाम मोहम्मद तुफैल अंसारी वैजुर्रहमान कलीम महतो मकबूल हसन शमीम अंसारी हाजी रहमतुल्लाह अंसारी शकील अहमद मोहम्मद शोएब आदि लोग शामिल थे।

Next Story
Share it