Top

कांग्रेस ने किया विश्वनाथ मंदिर के महंत कुलपति तिवारी के धरने का समर्थन

कांग्रेस ने किया विश्वनाथ मंदिर के महंत कुलपति तिवारी के धरने का समर्थन


वर्तमान समय मे केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार द्वारा काशी के तथाकथित विकास के नाम पर काशी की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक परम्परा नष्ट किये जाने से आहत और नाराज श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत श्री कुलपति तिवारी द्वारा दिए जा रहे धरने को आज पूर्व विधायक अजय राय ने अपना समर्थन देकर उनकी आवाज को मजबूत करने का पूरा भरोसा दिया । वस्तुतः काशी, जिसे विश्व की सबसे प्राचीन आध्यात्मिक नगरी होने का गौरव प्राप्त है, का विकास के नाम पर मोदी सरकार द्वारा जो ध्वस्तीकरण किया जा रहा है | , वह न सिर्फ धर्म विरुद्ध है बल्कि वह भारतीय संस्कृति के भी खिलाफ है ।

केंद्र सरकार द्वारा काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के नाम पर श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के आस पास के सैकड़ों मंदिरों के तोड़े गए । यही नहीं, कॉरिडोर निर्माण के नाम पर गंगा की धारा को मोड़कर अशास्त्रीय कार्य किया गया तथा साथ ही साथ बाबा श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में सैकड़ों वर्षों की परम्पराओं को भी लगातार खंडित किया गया । केंद्र सरकार द्वारा श्री काशी विश्वनाथ मंदिर की पूजा पद्धति तथा वहां की व्यवस्था में किये जा रहे मनमाने हस्तक्षेप से नाराज होकर श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत कुलपति तिवारी धरना दे रहे हैं । आज वाराणसी कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय राय एवं महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे तथा कोषाध्यक्ष मनीष मोरोलिया के नेतृत्व में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत कुलपति तिवारी से मिलकर उन्हें भरोसा दिया कि वह उनकी मांगों के साथ खड़े हैं और पूरी मजबूती के साथ डटकर खड़े रहेंगे, जबतक कि सरकार कुलपति तिवारीजी की मांगों को मान नहीं लेती ।

पूर्व विधायक अजय राय ने पत्रकारो द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि - हम कांग्रेसजन आदरणीय कुलपति तिवारी जी की मांगों के माने जाने तक उनके साथ मजबूती से खड़े रहेंगे । कुलपति तिवारी जी का परिवार सैकड़ों वर्षों से बाबा श्री काशी विश्वनाथ मंदिर की सेवा में समर्पित रहा है ।आज उन्हें सरकार की कारगुजारियों की वजह से धरना देना पड़ रहा है, यह कितने दुःख और शर्म की बात है । उन्होंने कहा कि - यह सब तब हो रहा है जबकि केंद्र और राज्य में तथाकथित सबसे धर्मनिष्ठ और हिन्दू हितों की रक्षा करने वाली पार्टी सत्ता में बैठी हुई है । उन्होंने कहा कि - वस्तुतः आज जो पार्टी सत्ता में बैठी हुई है, उसे न धर्म मे आस्था है और न हिन्दू आस्था के केंद्रों से । उन्हें तो बस वोट से मतलब है । यह उनके दोहरा चरित्र है । क्योंकि भाजपा को मुखौटे वाली सरकार माना जाता है । उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि - हम आदणीय कुलपति तिवारीजी की भावनाओं और मांगों के साथ खड़े रहेंगे, जबतक कि सरकार उनकी मांगों को नहीं मान लेती ।।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री अजय राय,महानगर अध्यक्ष राघवेन्द्र चौबे,मनीष मोर्लिया,ब्रह्मदत्त त्रिपाठी, तरंग सेठ,रोहित दुबे,प्रिंस चौबे, विनीत चौबे,आकाश,समेत दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Next Story
Share it