Top

1500 कैदी ऐसे है जो जुर्माना या हर्जाना न दे पाने के कारण वर्षो से सजा काट रहे है/

1500 कैदी ऐसे है जो जुर्माना या हर्जाना न दे पाने के कारण वर्षो से सजा काट रहे है/

बी एच यू के पूर्व छात्र नेता यतीन्द्र पति पाण्डेय द्वारा बृहस्पतिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया जिसमें नेपाल जेल से रिहा महेंद्र वर्मा ने बताया लगभग 1500 कैदी ऐसे है जो जुर्माना या हर्जाना न दे पाने के कारण वर्षो से सजा काट रहे है/

भारत सरकार द्वारा किसी भी प्रकार की मदद नही पहुंच पाती है।उन कैदियों में कुछ निर्दोष व कुछ मुर्गे व बकरियों के दुर्घटना के मामले में बन्द हैं।

यतीन्द्र जब महेंद्र को छुड़ाने जेल पहुंचे तो महेंद्र के बाकी 19 साथी उन्हें रोते हुए विदा किये और जेल के अन्दर लगी जाली से ही यतीन्द्र से गुहार लगाई की हमे भी यहाँ से रिहा कराया जाय।यतीन्द्र अब भारत सरकार से निवेदन करते हैं कि उन सभी भारतीय कैदियों को जल्द से जल्द रिहा कराया जो जुर्माने या हर्जाने के आभाव में बंद है।यतीन्द्र ने कहा कि महेंद्र को छुड़ाने के लिये हम जैसे सामान्य मानवी को करीब तीन वर्ष लग गए अब 1500 की बारी है इसमें भारत सरकार का महत्वपूर्ण योगदान होना अत्यन्त आवश्यक है।अगर सरकार की मदद नहीं मिली तो यतीन्द्र इसके लिये आंदोलन का सहारा लेंगें ।

Next Story
Share it