प्रख्यात चित्रकार प्रो सुखवीर सिंघल के 108 वें जन्मदिवस के शुभ अवसर पर संगोष्ठी एवं उनके चित्रकला की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया

प्रख्यात चित्रकार प्रो सुखवीर सिंघल के 108 वें जन्मदिवस के शुभ अवसर पर संगोष्ठी एवं उनके चित्रकला की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया

राष्ट्रीय कला मंच, अवध प्रांत एवं कला भारती ट्रस्ट के द्वारा गोयल महाविद्यालय में लखनऊ के प्रख्यात चित्रकार प्रो सुखवीर सिंघल के 108 वें जन्मदिवस के शुभ अवसर पर संगोष्ठी एवं उनके चित्रकला की प्रदर्शनी का आयोजन किया गयासाथ ही डॉ स्तुति सिंघल द्वारा तीन दिवसीय कार्यक्रम वाश पेंटिंग वर्कशॉप का उद्घाटन हुआ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप मे ललित कला अकादमी, उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सीता राम कश्यप उपस्थित रहे । उन्होंने बताया की ऐसी प्रदेशनियों के माध्यम से युवाओं के बीच ऊर्जा का संचार होता है और उनके हुनर को प्रोत्साहन मिलता है।

कार्यक्रम में उपस्थित प्रो सुखवीर सिंघल के दामाद राजेश जायसवाल, पुत्री स्तुति सिंघल एवं उनकी नातिन प्रियम चंद्रा, प्रो सुखवीर सिंघल की कला धरोहर को आज भी जिंदा रखने का काम कर रहे हैं | प्रियम चंद्रा अमेरिका मे सॉफ्टवेयर इंजीनियर जैसे महत्वपूर्ण पद पर कार्यरत थीं , अपनी नौकरी छोड़ अपने नाना प्रो सिंघल की रचनाओं को जीवित करने और वाश पेंटिंग जैसी बेहतरीन तकनीक को प्रोत्साहित करने के लिए अपनी नौकरी छोड़ कर लौट आईं।

प्रियम जी ने बताया कि किस तरह उनके नाना ने पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी की शादी का कार्ड डिजाइन किया । उन्होंने बताया की प्रो सिंघल की रचनाएँ भारतीय संस्कृति का प्रतिबिंब हैं।




कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप मे एबीवीपी अवध प्रांत के प्रांत मंत्री आकाश पटेल ने कहा कि भारत में कई आक्रमण हुए जिसके बावजूद यहां की कला संस्कृति अभी भी जीवित है। जिसे जीवित रखने का काम करते हैं सुखवीर सिंघल जैसे महान कलाकार और उनके बाद भी उनकी रचनाओं को अमर रखने वाला उनका परिवार।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय में ललित कला विभाग की असिस्टेंट प्रो डा सुनीता शर्मा ने भी अपने विचार साझा किए

अतिथि राष्ट्रीय कला मंच के प्रांत संयोजक अभिनव दीप,

सायोजक बीवीए डिप्टार्टमेंट की असिस्टेंट प्रोफेसर शिखा पांडे मौजूद रहीं।

कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय कला मंच अवध प्रांत के प्रांत सह संयोजक उत्कर्ष अवस्थी ने किया ।





Next Story
Share it