UP में रंग और तेजाब से धोकर बेची जा रही हैं सब्जियां, FSDA ने किया खुलासा

UP में रंग और तेजाब से धोकर बेची जा रही हैं सब्जियां, FSDA ने किया खुलासा

बाज़ार में बिक रही चमकदार सब्जियां जरुरी नहीं की ताज़ा हो। यह भी कोई जरूरी नहीं कि दूर से हरी नज़र आ हरी मटर और मेथी भी अंदर से उतनी ही ताज़ी और हरी भरी हो। ये हम नहीं खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) कह रहा है।

एफएसडीए (FSDA) की जांच में खुलासा हुआ है कि उत्तर प्रदेश के कई शहरों में सब्जियों को ताजा और हरा दिखाने के लिए रंगों से धोया जा रहा है। वहीं अदरक को चमकदार दिखाने के लिए तेजाब से डूबा कर नहलाया जाता है।

अपर मुख्य सचिव अनीता जैन भटनागर के निर्देशन में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) की टीम को तैयार किया गया है। अलग-अलग शहरों में बनी एफएसडीए की टीम ने अगस्त महीने में लगातार सब्जी बाज़ार में छापेमारी की। पूरे राज्य से सब्जियों के 600 सैंपल लिए गए सभी सैंपल को अलग-अलग लैब में जांच के लिए भेजा गया। जांच के बाद 600 में से 32 नमूने फेल हुए।

जांच में 32 सैंपल फेल हो गए यह सभी 32 सैंपल यूपी के 18 अलग-अलग शहरों के हैं। जिन शहरों में सब्जी के सैंपल फेल हुए हैं उनमें , कानपुर देहात, जालौन, आगरा, मुरादाबाद, संभल, हाथरस, इटावा, हरदोई, कासगंज, मैनपुरी, गाज़ियाबाद , अमरोहा, फिरोजाबाद, रामपुर, झांसी, मुजफ्फरपुर, औरेय्या और सिद्धार्थनगर शामिल हैं.

Next Story
Share it