गर्मियों के मौसम में आम का पना है बहुत ही ज्यादा फायदेमंद, जाने इसे बनाने की विधि....

गर्मियों के मौसम में आम का पना है बहुत ही ज्यादा फायदेमंद, जाने इसे बनाने की विधि....



गर्मी के आते ही बाजार आमों से सज जाते हैं. कच्चे आम और पके हुए आम दोनों की पूरे सीजन डिमांड होती है. लोग आम को कई प्रकार से खाते हैं जिसमें आम का शेक, आम का अचार, आम की चटनी, आम की लौंजी, आम का मुरब्बा और आम का पना. आम का पना लोगों का सबसे ज्यादा पसंदीदा पेय पदार्थ है. यह खाने में मजेदार होने के साथ-साथ गर्मी से बचने में में सहायक होता है. गर्मियों में आम का पना बडे़ स्वाद के साथ पिया जाता है. कच्चे आम के बनने वाला ये पेय उत्तर भारत में बहुत लोकप्रिय है. आम का पना ना केवल तन को शीतलता प्रदान करता है बल्कि सेहत के लिए भी बहुत लाभदायक होता है.

कैसे बनाएं कच्चे आम का पना?

कच्चे आमों को धोकर छील लें. फिर गुठलियां अलग करके गूदे को पानी में उबाल लें. मिक्सी में ये उबला हुआ गूदा, थोड़ी सी शक्कर, काला नमक और पुदीने की पत्तियां डालकर अच्छी तरह से पीस लें और फिर ठंडा पानी मिला लें. इसमें काली मिर्च और भुना हुआ जीरा पाउडर डालकर अच्छे से मिलाएं और फिर बर्फ के टुकड़े डालकर ठंडा-ठंडा पिएं.

आम पना इन इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी को पूरा करता है. इलेक्ट्रोलाइट्स को संतुलित करने के लिए खनिजों से भरपूर एक ग्लास आम पना पर्याप्त होता है.आम पना घटती जठरांत्र संबंधी विकारों और शिष्ट विकारों के साथ जुड़ा हुआ है. यह आंतों के लिए एक उपचार एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए जाना जाता है. इसके अलावा यह आम पना बच्चों के लिए भी गुणकारी है. बच्चों को आम पना देने से पेट की गैस, पेट के कीड़े जैसी दिक्कतों को आसानी से दूर किया जा सकता है.

अराधना मौर्या

Next Story
Share it