Health

  • अमेरिका से लौटे युवक में पाया गया ओमिक्रॉन सब-वेरिएंट वायरस

    जयपुर में एक 21 वर्षीय युवक का पता चला है, जिसने कथित तौर पर ओमिक्रॉन सब-वेरिएंट एक्सबीबी 1.5 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया है, जो विशेषज्ञों का कहना है कि वायरस के पिछले बार की तुलना में अधिक संक्रामक है। माना जाता है कि अमेरिका में कोविड मामलों की संख्या में हालिया उछाल के पीछे तनाव...

  • भारत ने पिछले 24 घंटों में 188 नए COVID-19 मामले दर्ज किए

    भारत ने पिछले 24 घंटों में 188 नए COVID-19 मामले दर्ज किए | भारत का सक्रिय मामले वर्तमान में 3,468 है, जो कुल मामलों का 0.01 प्रतिशत है।रिकवरी रेट फिलहाल 98.8 फीसदी है। पिछले 24 घंटों में 141 ठीक हुए, जिससे ठीक होने वालों की कुल संख्या 4,41,43,483 हो गई |दैनिक सकारात्मकता दर 0.14 प्रतिशत...

  • UP News: Mock drill in all the hospitals today, preprations to deal with covid will be tested

    A mock drill will be held in all medical institutes, medical colleges and district hospitals of Uttar Pradesh from 10 am on Tuesday. In this, the preparations made to deal with covid will be examined. For this, a nodal officer has been designated in the respective hospitals. The concerned nodal...

  • चीन से कोरोना लेकर लौटा भारत में, घर को सील किया गया

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी अरुण श्रीवास्तव ने 25 दिसंबर को बताया कि दो दिन पहले चीन से लौटे एक 40 वर्षीय व्यक्ति का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है, जिसके बाद उसे आगरा में अपने घर में आइसोलेट कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए उनके नमूने लखनऊ भेजे जाएंगे। डॉ. श्रीवास्तव ने...

  • The intranasal anti-Covid-19 vaccine iNCOVACC got linked to the Cowin app on Saturday evening.

    However, information regarding its price has not been shared yet. According to sources, a decision on this is expected next week.Mandaviya had announced Union Health Minister Mansukh Mandaviya said on Friday that the central government has approved the inclusion of iNCOVACC in the Kovid-19...

  • कानपुर के हैलट में बना 100 बेड का कोविड अस्पताल

    पूरे उत्तर प्रदेश में चिकित्सा सहायता बढ़ाने के प्रयास में, राज्य के अधिकारियों ने कानपुर और जेवर में संयुक्त अस्पताल स्थापित करने का निर्णय लिया है। राज्य निर्माण निगम के अधिकार में विकसित किए जाने की योजना है, दोनों स्वास्थ्य केंद्र 100 बिस्तरों से सुसज्जित होंगे। रिपोर्टों के अनुसार, प्रशासन ने...

  • "Third waves of covid will came in three months...", experts warn the spread of the epidemic in China

    According to Wu Xunyu, chief epidemiologist at the Chinese Center for Disease Control and Prevention, "The first wave will last from now until mid-January... The second wave is expected to follow soon after, starting on January 21... Then from the end of February to the middle of March, there will...

  • चीन में बढ़ते कोरोना संक्रमण ने भारत की बढ़ाई चिंता

    चीन में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामले भारत के लिए चिंता बढ़ा दिया हैं। बीते कुछ दिनों से इसकी चर्चा जोरों पर हैं। वायरस का प्रकोप अब तक के तेज रफ्तार में है। वहा के स्वास्थ विभाग के अधिकारियों का कहना है कि आने वाले कुछ ही महीनों में 80 करोड़ लोग से अधिक संक्रमित हो सकते हैं।इसके के अलावा...

  • सतर्क रहें कोविड-19 अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 अभी खत्म नहीं हुआ है और लोगों को सतर्क रहने को कहा है। मंडाविया ने वैश्विक मामलों में तेजी के बीच कोविड-19 स्थिति पर स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की और कहा कि सरकार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए...

  • बच्चो के खराब मस्तिष्क का कारण है मोटापा

    बचपन का मोटापा एक बढ़ती हुई चिंता है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार, हर पांच बच्चों में से लगभग एक मोटापे से ग्रस्त है।आजकल बच्चों को पौष्टिक खाना अच्छा ही नहीं लगता है, उन्हें तो जंक फूड खाने में मजा आता है। बच्चों को जंक फूड आसानी से मिल जाता है। बच्चों के इस खानपान के चलते...

  • स्वच्छ जल,स्वच्छ वातावरण जीवन जीने के लिए ज़रूरी है

    राघवेंद्र सिंह : संवाददाता , बचपन एक्सप्रेस स्वच्छ जल,स्वच्छ वातावरण जीवन जीने के लिए ज़रूरी है। उसी प्रकार स्वच्छ हवा स्वास्थ के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण होता है। 20 साल पहले और अब में तुलना करे तो वायु का स्तर कम होता दिखाई देता है। बीते कुछ वर्षों इसकी गुणवत्ता में कमी आई है।यह दिखाने के लिए...

  • कंगारू मदर केयर यानि त्वचा से त्वचा का संपर्क जन्म के तुरंत बाद शुरू होना चाहिए: डब्ल्यूएचओ ने दी सलाह

    राघवेंद्र सिंह : संवाददाता, बचपन एक्स्प्रेस समय से पहले जन्म लेने वाले (गर्भावस्था के 37 सप्ताह से पहले) या छोटे (जन्म के समय 2.5 किग्रा से कम) बच्चों के जीवित रहने और स्वास्थ्य परिणामों में सुधार के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने नए दिशानिर्देश जारी किए। एक देखभालकर्ता के साथ त्वचा से त्वचा का...

Share it