लखनऊ में ब्लैक फंगस के कारण महिला की मृत्यु- चिकित्सकों ने बताए शरीर में उत्पन्न होने वाले लक्षण....

लखनऊ में ब्लैक फंगस के कारण महिला की मृत्यु- चिकित्सकों ने बताए शरीर में उत्पन्न होने वाले लक्षण....

भारत में जहां एक तरफ कोरोनावायरस दूसरी लहर के साथ भयानक कहर बरपा रहा है। वहीं दूसरी तरफ अब ब्लैक फंगस की एक नई बीमारी सामने आ रही है जिसमें लगातार मरीज मिलते जा रहे हैं।

वायरस से संक्रमित लोग अब ब्लैक फंगस का शिकार होते जा रहे हैं, जिसमें इस फंगस की चपेट में आने से एक महिला की मौत आज दर्ज की गई है। आपको बता दें कि सोमवार को लखनऊ में एक महिला को आंख और नाक के पास सूजन महसूस हुई, जिसके बाद परिजन महिला को लोहिया अस्पताल में लेकर गए जहां पर डॉक्टर ने इलाज शुरू किया तो ब्लैक फंगस से महिला ग्रसित पाई गई।

जिसके बाद महिला का सिटी स्कैन जांच कराने का फैसला लिया गया और सिटी स्कैन के बाद नजर आया कि महिला फंगस से संक्रमित है। डॉक्टरों की इलाज करने के बावजूद महिला की मौजूदा स्थिति में किसी प्रकार का सुधार नहीं हुआ है। जिसके बाद बुधवार को महिला की मृत्यु हो गई।

चिकित्सकों द्वारा बताया गया है कि फंगस की यह बीमारी के अब तक 12 मरीज सामने आए हैं और इस बीमारी का सबसे ज्यादा असर डायबिटीज से जुड़े मरीजों में ज्यादा देखा जा रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि लंबे समय तक ऑक्सीजन लगने वाले मरीजों में यह समस्या अधिक देखने को मिल रही है.

स्टराइड की अधिक डोज लेने वालों में भी फंगस आसानी से पनप रहा है। उन्होंने बताया कि कोरोना के ठीक होने के 14 से 15 दिन बाद यह परेशानी सामने आती है।इसी के साथ मुख्य चिकित्सकों द्वारा बताया गया कि ब्लैक फंगस के लक्षणों में आंखों में दर्द, आंखों का लाल होना, आधे सिर में दर्द होना, पलकों का झुक जाना या सूजन होना, आंखों की रोशनी अचानक से कम हो जाना, आंखों के अलावा नाक से खून आना, काली पपड़ी जमने के साथ मुंह का टेढ़ा होना जैसे लक्षण देखे जाएंगे।

उन्होंने बताया कि यदि किसी भी व्यक्ति में इस प्रकार के लक्षण पाए जाते हैं तो शीघ्र ही अस्पताल में भर्ती कराए।

नेहा शाह

Next Story
Share it