जम्मू-कश्मीर में भी पंहुचा ब्लैक फंगस, हुई पहली मौत....

जम्मू-कश्मीर में भी पंहुचा ब्लैक फंगस, हुई पहली मौत....

जम्मू के राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में ब्लैक फंगस अर्थात म्यूको माइकोसिस से पहली मौत हुई है। 40 वर्षीय यह मरीज पुंछ जिले का रहने वाला था। वहीं अब मामला आने के बाद जीएमसी में हलचल तेज हो गई है और अब अन्य मरीजों की भी जांच की जा रही है।

जीएमसी की प्रिंसिपल डा. शशि सूदन शर्मा ने भी इसकी पुष्टि की है। यही नहीं स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट पर है। सरकार ने इस बीमारी को लेकर एडवाइजरी जारी की है। बता दें कि हाल ही में वह कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हुआ था। प्रदेश में हुई पहली मौत से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। इस पर काबू पाने के लिए तैयारियां चल रही हैं।

बता दें कि कोविड-19 के बाद मरीजों पर ब्लैक फंगस कहर बनकर टूट रहा है। उत्तराखंड में पहली मौत एम्स ऋषिकेश अस्पताल में दर्ज की गई है। यहां कोविड संक्रमण का इलाज करा रहे 19 अन्य मरीजों में भी इस बीमारी की पुष्टि हुई है।

एम्स ऋषिकेश के निदेशक रविकांत ने बताया कि बृहस्पतिवार 13 मई को देहरादून से रेफर हुए कोरोना संक्रमित 36 वर्षीय व्यक्ति की, ब्लैक फंगस की सर्जरी संभव नहीं हो पाने के कारण मृत्यु हो गई। वहीं मेरठ में ब्लैक फंगस से एक मरीज की मौत का मामला सामने आया है।

जिले में ब्लैक फंगस से संक्रमित किसी मरीज की यह पहली मौत है। वहीं जिले के अस्पतालों में भर्ती कोरोना संक्रमितों में ब्लैक फंगस तेजी से फैल रहा है।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it