कोविड-19 की तीसरी लहर से लड़ने के लिए तैयार योगी प्रशासन कहा- सभी सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को गोद ले सांसद और विधायक.....

कोविड-19 की तीसरी लहर से लड़ने के लिए तैयार योगी प्रशासन कहा- सभी सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को गोद ले सांसद और विधायक.....

उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की दूसरी लहर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम ने मिलकर इस लहर से काबू पाने का समाधान निकाल लिया है। तीसरी लहर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए हर स्तर पर तैयारी जरूरी है।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुसार यूपी के सभी सांसद-विधायक इलाके में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को गोद लें और वहां की व्यवस्था दुरुस्त कराएं।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गठित की गई टीम की बैठक में उत्तर प्रदेश के सभी जिलों के सीएचसी और पीएचसी में उपकरणों की मरम्मत, क्रियाशीलता, परिसर की रंगाई-पुताई, स्वच्छता और मैन पावर की पर्याप्त उपलब्धता के संबंध में विशेष निर्देश दिए।

सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने इस कार्य के लिए सांसद समेत विधायक से लेकर निकायों के महापौर चेयरमैन और पार्षद तक से सहयोग मांगा है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन जनप्रतिनिधियों से संवाद स्थापित करते हुए नियमित अंतराल पर सीएचसी-पीएचसी का निरीक्षण कराएं।

इसी के साथ उन्होंने निर्देश दिया कि बेसिक शिक्षा विभाग में ऑपरेशन कायाकल्प की तर्ज पर स्वास्थ्य और एजुकेशन विभाग में अभियान चलाकर व्यवस्था को सही किया जाना चाहिए।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त निर्देश दिए हैं कि हर जिले में बन रहे हैं ऑक्सीजन प्लांट की निगरानी के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाना चाहिए। गौरतलब है कि भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश के लिए 286 नए ऑक्सीजन प्लांट की स्वीकृति प्रदान की है।

उद्योग जगत से सीएसआर के माध्यम से और राज्य सरकार द्वारा एसडीआरएफ फंड से भी ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कराए जा रहे हैं। प्रदेश के सभी जनपदों में ऑक्सीजन की पर्याप्त बैकअप के साथ उपलब्धता सुनिश्चित रहे।

नेहा शाह

Next Story
Share it