कोविड-19 की तीसरी लहर से निपटने के लिए कानपुर जिला प्रशासन ने हर अस्पताल में बढ़ाएं 1000 बेड....

कोविड-19 की तीसरी लहर से निपटने के लिए कानपुर जिला प्रशासन ने हर अस्पताल में बढ़ाएं 1000 बेड....

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस की दूसरी लहर आने के कारण भारत में लगभग तबाही का मंजर हो चुका है। इस बीच वैज्ञानिकों द्वारा वायरस की तीसरी लहर की भी जानकारी दे दी गई है। तीसरी लहर की जानकारी मिलते ही सभी राज्य और केंद्र सरकार ने अपनी गतिविधियों को तेज कर दिया है तथा व्यवस्थाओं को शुद्ध रूप से स्थापित करने की कोशिश की जा रही है।

उत्तर प्रदेश के जिले कानपुर में मंडलायुक्त के आदेशों पर स्वास्थ्य विभाग ने शहर में लगभग 1000 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के लिए की है। बताया जा रहा है कि हर कोविड अस्पताल की क्षमता में करीब 35 फीसद का इजाफा किया जाएगा। पूरी योजना का खाका तैयार करके स्वास्थ्य विभाग ने कमिश्नर को सौंप दिया है। हरी झंडी मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।

कानपुर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में 25 अस्पतालों को कोविड अस्पतालों के रूप में मान्यता दी गई है। गौरतलब है कि जब कोरोना पीक पर था, उस वक्त सभी अस्पतालों में बेड की संख्या कम पड़ गई थी और मरीजों को भारी संकट का सामना करना पड़ा था।

अभी कोविड अस्पतालों में कुल 2883 बेड हैं। अब स्वास्थ्य विभाग ने कमिश्नर डॉ. राजशेखर के निर्देश पर कोविड अस्पतालों में एक हजार से अधिक बेड संख्या बढ़ाने का खाका तैयार किया गया। आदेशों के अनुसार हर अस्पताल में 35 फीसद बेड की बढ़ोतरी की जाएगी।

बता दे इसके अलावा निजी अस्पतालों से भी कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए व्यवस्थाओं में इजाफा करने के लिए कहा गया है। इसी बीच 50 बेड से अधिक संख्या वाले अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर भी गंभीरता से विचार हो रहा है।

इस क्रम में सबसे अधिक इंतजाम बढ़ाने का जोर एलएलआर अस्पताल पर है, जहां 425 बेड की व्यवस्था है। इसे बढ़ाकर लगभग 600 बेड किए जाने की तैयारी है। मौजूदा समय में कोविड अस्पतालों में कुल बेड की संख्या 2883 है।

नेहा शाह

Next Story
Share it