रूस के राष्ट्रपति ने 'बड़े स्तर पर' कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू करने के दिए निर्देश, स्पूतनिक वी' को 92% बताया कारगर .....

रूस के राष्ट्रपति ने बड़े स्तर पर कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू करने के दिए निर्देश, स्पूतनिक वी को 92% बताया कारगर .....


कोरोना महामारी से जूझ रहे दुनिया के लोगों के लिए कई देशों से अच्छी खबरें सामने आनी शुरू हो गई है। कई देशों ने अपने-अपने देश में बने कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी है और टीकाकरण अभियान चलाने के लिए कवायद की जा रही है। इस बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अगले सप्ताह से व्यापक स्तर पर कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण अभियान की शुरुआत करने के आदेश दे दिए हैं।

रूसी वैज्ञानिकों ने 'स्पूतनिक-वी' कोरोना वैक्सीन विकसित किया है और सरकार ने उसे मंजूरी दे दी है। हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से टीकाकरण को लेकर मंजूरी नहीं मिली है। रूस का कहना है कि स्पूतनिक-वी कोरोना वैक्सीन काफी सुरक्षित है। राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि स्पूतनिक-वी वैक्सीन की 20 लाख से अधिक खुराक तैयार कर ली गई है और अब अधिकारियों को ये निर्देश दिया गया है कि अगले हफ्ते से टीकाकरण संबंधी सारी तैयारियां पूरी कर लें।

पुतिन ने बुधवार को वैक्सीन बनाने वाले एक प्लांट को लॉन्च किए जाने वाले समारोह में यह ऐलान किया। वह वीडियो लिंक के जरिये इस समारोह में शामिल हुए। पुतिन ने कहा कि रूस अगले कुछ दिनों के भीतर 2 मिलियन कोरोना वैक्सीन का उत्पादन करेगा। रूस ने पिछले महीने कहा था कि उसका 'स्पूतनिक वी' वैक्सीन ट्रायल के दौरान 92% कारगर पाया गया था।

यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (ईएमए) 29 दिसंबर को बैठक कर वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की अनुमति देने पर विचार करेगा। इसी बैठक में तय होगा कि यूरोपीय यूनियन (ईयू) के सदस्य देश किस वैक्सीन को प्राथमिकता देंगे। ऐसे माना जा रहा है कि महामारी से बुरी तरह प्रभावित यूरोपीय यूनियन के देशों में 2021 से ही टीकाकरण अभियान शुरू हो पाएगा।

शिवांग

Next Story
Share it