तेजी से बढ़ते करो ना मामलों की AIIMS के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताई यह वजह....

तेजी से बढ़ते करो ना मामलों की AIIMS के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताई यह वजह....



देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों पर दिल्ली स्थित एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने बड़ी बात कही है. एम्स डायरेक्टर ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए कई कारण जिम्मेदार हैं, लेकिन इनमें से दो प्रमुख हैं. पहला कि जनवरी और फरवरी में टीकाकरण शुरू होने के बाद संक्रमण के मामले कम होने लगे और लोगों ने कोरोना गाइडलाइंस के मुताबिक व्यवहार करना बंद किया.

यही समय था जब वायरस में म्यूटेशन हुआ और यह ज्यादा संक्रामक हो गया. गुलेरिया ने कहा कि संक्रमण के मामले बढ़ने की वजह से स्वास्थ्य व्यवस्था पर बहुत ज्यादा दबाव है.

उन्होंने कहा कि हमें अपने अस्पतालों में बेड की संख्या लगातार बनाए रखनी होगी और बढ़ते मामलों से निपटने के लिए संसाधन बढ़ाने होंगे. हमें जल्द से जल्द संक्रमण के बढ़ते मामलों पर काबू पाना होगा. उन्होंने कहा कि यह याद रखना होगा कि कोई भी टीका सौ प्रतिशत कारगर नहीं है, टीका लगाने के बाद आपको संक्रमण हो सकता है, लेकिन शरीर में एंटीबॉडी कोरोना वायरस को तबाही मचाने नहीं देगा.

आपको गंभीर बीमारी नहीं होगी. डॉ. गुलेरिया ने कहा कि छह-सात महीने पहले की तुलना में दिल्ली में एक बड़ा हॉटस्पॉट देखने को मिल रहा है. कोरोना से बचाव ही इसका इलाज है.

अराधना मौर्या

Next Story
Share it