राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने की घोषणा, EpiVacCorona वैक्सीन को मिली मंजूरी.....

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने की घोषणा, EpiVacCorona वैक्सीन को मिली मंजूरी.....


रूस में जब कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में काफी तेजी आ गई है तब राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को घोषणा की कि रूस ने अपनी दूसरी कोरोना वायरस वैक्सीन रजिस्टर्ड की है। पुतिन ने कैबिनेट सदस्यों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, "नोवोसिबिर्स्क वेक्टर सेंटर ने आज कोरोना वायरस के खिलाफ दूसरी रूसी वैक्सीन रजिस्टर्ड की है।" वेक्टर की इस वैक्सीन को 'एपीवैककोरोना' नाम दिया गया है, जो कि एक पेप्टाइड-आधारित वैक्सीन है। स्पूतनिक न्यूज एंजेसी की रिपोर्ट के अनुसार, पुतिन ने बताया कि चुमकोव केंद्र की ओर से विकसित कोविड-19 के खिलाफ तीसरी रूसी वैक्सीन भी निकट भविष्य में भी पंजीकृत की जाएगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि रूसी उप प्रधानमंत्री तात्याना गोलिकोवा ने कहा कि वह खुद 'एपीवैककोरोना' वैक्सीन के परीक्षण से गुजरी हैं और उन्हें इसके किसी भी दुष्परिणाम (साइड इफेक्ट) का अनुभव नहीं हुआ है।

जानकारी के लिए बता दें कि रूस ने इससे पहले 11 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक-V को रजिस्टर कराया था। अब करीब दो महीने बाद रूस के वैज्ञानिकों ने एक बार फिर दूसरी वैक्सीन को भी रजिस्टर कराया है। रूसी अधिकारियों ने प्रारंभिक चरण के अध्ययन के बाद दूसरा कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इससे पहले अगस्त में कहा था कि उनके देश ने स्पुतनिक-V नाम की पहली कोरोना वैक्सीन रजिस्टर कर ली है। फिलहाल ये वैक्सीन अपने ट्रायल के आखिरी चरण में है। हालांकि, दुनिया के कई वैज्ञानिकों ने इस वैक्सीन को जल्दबाजी में उतारी गई वैक्सीन बताते हुए इसकी आलोचना भी की थी।

अराधना मौर्या

Next Story
Share it