आखिर बाल और नाखून काटते वक्त क्यों नहीं होता दर्द, यहां जानिए राज की बात

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
आखिर बाल और नाखून काटते वक्त क्यों नहीं होता दर्द, यहां जानिए राज की बात

हमारी बॉडी के किसी हिस्से में चोट लग जाए या खरोंच आ जाए तो कितना दर्द होता है. कई बार तो ये दर्द इतना ज्यादा होता है कि पेन किलर तक लेनी पड़ जाती है. त्वचा कटने फटने पर भी दर्द होना लाजमी है लेकिन वहीं अपने ही शरीर का हिस्सा होने के बावजूद बाल और नाखूनों के साथ ऐसा नहीं होता. नाखून और बाल काटते वक्त दर्द नहीं होता. लोग इस बात को लेकर अचरज करते हैं लेकिन ये वाकई अजीब बात है. चलिए जानते हैं कि नाखून और बाल काटते वक्त दर्द का अहसास क्यों नहीं होता. नाखून और बाल काटने पर पेन क्यों नहीं होतानाखून औऱ बाल काटते वक्त दर्द ना होने के पीछे की वजह डेड सेल्स यानी मृत कोशिकाएं हैं.

दरअसल नाखून और बाल दोनों में ही मृत कोशिकाएं मौजूद होती हैं और इनकी वजह से इनको काटते समय दर्द का अहसास नहीं होता. नाखूनों और बालों के डेड सेल्स में किरेटिन नाम का प्रोटीन पाया जाता है जो बिलकुल निर्जीव होता है. इसी कारण जब हम नाखून काटते हैं तो दर्द नहीं होता. लेकिन त्वचा से सटे नाखून के हिस्से में ये प्रोटीन नहीं होता बल्कि यहां पर लाइव सेल्स होते हैं. इसलिए जब हम त्वचा से बिलकुल सटा कर नाखून काटते हैं तो दर्द का एहसास होता है. यहां है वजह ठीक यही वजह बालों के साथ है. बाल मृत कोशिकाओं यानी डेड सेल्स से बनते हैं.

इसलिए इनकी कटाई छंटाई के वक्त दर्द का एहसास नहीं होता. दूसरी तरफ बालों के लिए किरेटिन प्रोटीन जरूरी माना जाता है. अगर शरीर में किरेटिन प्रोटीन की कमी हो जाए तो बालों का झडऩा, रूखा होना और सफेद होना शुरू हो जाता है. इसलिए डॉक्टर सलाह देते हैं कि नाखून और बालों के विकास के लिए पर्याप्त प्रोटीन का सेवन करना चाहिए. जब शरीर में किरेटिन प्रोटीन होता है तो नाखूनों पर भी असर होता है और नाखून जरा सा काम करने पर कमजोर होकर टूटने लगते हैं.

Next Story
Share it